नए इलाके में खुशबू रचते हैं हाथ प्रश्न और उत्तर Class 9

NCERT Solutions for Class 9 Hindi Sparsh khushboo rachte hai haath questions and answers

पाठ : 15 – नए इलाके में खुशबू रचते हैं हाथ

कवि परिचय

इस कविता के कवि है  अरुण कमल। अरुण कमल का जन्म बिहार के रोहतास जिले के नासरीगंज में 15 फरवरी 1954 को हआ।।ये इन दिनों पटना विश्वविद्यालय में प्राध्यापक हैं। इन्हें अपनी कविताओं के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार सहित कई अन्य पुरस्कारों से भी सम्मानित किया गया इन्होंने कविता लेखन के अलावा कई पुस्तकों और रचनाओं का अनुवाद भी किया है।

अरुण कमल की प्रमुख कृतियाँ हैं : अपनी केवल धार, सबूत, नए इलाके में, पुतली में संसार (चारों कविता-संग्रह) तथा कविता और समय (आलोचनात्मक कृति)। इनके अलावा अरुण कमल ने मायकोव्यस्की की आत्मकथा और जंगल बुक का हिंदी में और हिंदी के युवा कवियों की कविताओं का अंग्रेज़ी में अनुवाद किया, जो ‘वॉयसेज’ नाम से प्रकाशित हुआ।

अरुण कमल की कविताओं में नए बिंब, बोलचाल की भाषा, खड़ी बोली के अनेक लय-छंदों का समावेश है। इनकी कविताएँ जितनी आपबीती हैं, उतनी ही जगबीती भी। इनकी कविताओं में जीवन के विविध क्षेत्रों का चित्रण है। इस विविधता के कारण इनकी भाषा में भी विविधता के दर्शन होते हैं। ये बड़ी कुशलता और सहजता से जीवन-प्रसंगों को कविता में रूपांतरित कर देते हैं। इनकी कविता में वर्तमान शोषणमूलक व्यवस्था के खिलाफ आक्रोश, नफ़रत और उसे उलटकर एक नयी मानवीय व्यवस्था का निर्माण करने की आकुलता सर्वत्र दिखाई देती है।

प्रस्तुत पाठ की पहली कविता ‘नए इलाके में’ में एक ऐसी दुनिया में प्रवेश का आमंत्रण है, जो एक ही दिन में पुरानी पड़ जाती है। यह इस बात का बोध कराती है कि जीवन में कुछ भी स्थायी नहीं होता। इस पल-पल बनती-बिगड़ती दुनिया स्मृतियों के भरोसे नहीं जिया जा सकता। इस पाठ की दूसरी कविता ‘खुशबू रचते हैं हाथ’ में सामाजिक विषमताओं को बेनकाब करती है। यह किसकी और कैसी कारस्तानी है कि जो वर्ग समाज में सोदय का सृष्टि कर रहा है और उसे खुशहाल बना रहा है, वही वर्ग अभाव में, गंदगी में जीवन बसर कर रहा है? लोगों के जीवन में सुगंध बिखेरनेवाले हाथ भयावह स्थितियों में अपना जीवन बिताने पर मजबूर हैं! क्या विडंबना है कि खुशबू रचनेवाले ये हाथ दर्द राजू के सबसे गंदे और बदबूदार इलाकों में जीवन बिता रहे हैं। स्वस्थ समाज के निर्माण में योगदान करनेवाले ये लोग इतने उपेक्षित हैं! आखिर कब तक?

Naye Ilake me Class 9 – प्रश्न अभ्यास

निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए:

(क) नए बसते इलाके में कवि रास्ता क्यों भूल जाता है?

उत्तर: कवि नए बसते इलाके में रास्ते इसलिए भूल जाता है क्योंकि वहां पर निरंतर काम चलता रहता है तथा नए नए मकान बदलते रहते हैं तथा बनते रहते हैं।  और वहां की जगह भी बदल जाती है जिस कारण  कवि वहां का रास्ता अनेक बार भूल जाता है।

(ख) कविता में कौन-कौन से पुराने निशानों का उल्लेख किया गया है?

उत्तर:  पीपल का पेड़,  ढहा हुआ घर, जमीन का खाले टुकड़ा आदि पुरानी निशानों का कविता में उल्लेख किया गया है।

(ग) कवि एक घर पीछे या दो घर आगे क्यों चल देता है?

उत्तर: कवि एक घर पीछे यादो घर आ गए इसलिए पहुंच जाता है क्योंकि उसे घर तक पहुंचाने वाली निशानियां मिट चुकी हैं जिस कारण कवि एक घर पीछे या दो घर आ गए पहुंच जाता है।

(घ) ‘वसंत का गया पकड़ा’ और ‘बैसाख का गया भादों को लौटा मे क्या  अभिप्राय है?

उत्तर: ‘वसंत का गया पकड़ा’ :- इस पंक्ति का अभिप्राय यह है कि एका एक जगह में परिवर्तन हो जाना।

‘बैसाख का गया भादों को लौटा’ :- इस पंक्ति का यह अभिप्राय है कि  कुछ समय में एकाएक अद्भुत परिवर्तन हो जाना।

(ड) कवि ने इस कविता में ‘समय की कमी’ की ओर क्यों इशारा किया है।

उत्तर: कवि ने इस कविता में समय की कमी की और इसलिए इशारा किया है क्योंकि लोग एकाएक कुछ ना कुछ बनाते रहते हैं तथा परिवर्तन  करते रहते हैं। मनुष्य अपनी रचनाओं में इतना खो जाता है कि उसके मन में डर रह जाता है कि कहीं मैं अकेला तो नहीं रह जाएगा।  सारी रचनाएं करते हुए तथा अद्भुत चीजें बनाते हुए मनुष्य उन सभी कामों में खो जाता है जिस कारण वह अपने और अपने दोस्तों को या सगे संबंधियों को वक्त नहीं दे पाता जिस कारण उसके पास समय की कमी हो जाती है इसीलिए कभी ने समय की कमी की और इस कविता में इशारा किया है।

खुशबू रचते हैं हाथ Class 9प्रश्न अभ्यास

निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए:

(क) ‘खुशबू रचनेवाले हाथ’ कैसी परिस्थितियों में तथा कहाँ-कहाँ रहते हैं?

उत्तर: ‘खुशबू रचनेवाले हाथ’ गरीबी परिस्थितियों में रहते हैं तथा किसी नाले के किनारे या छोटी-छोटी झुग्गी झोपड़ियों के अंदर अपनी जिंदगी व्यतीत करते हैं।

(ख) कविता में कितने तरह के हाथों की चर्चा हुई है?

उत्तर: कवि ने कविता में कई तरह के हाथों की चर्चा की है जैसे :-  उभरी नसो वाले हाथ,  घिसे नाखूनों वाले हाथ,  जूही की डाल जैसे हाथ  अथवा कटे-फटे यह जख्मी हाथ।

(ग) कवि ने यह क्यों कहा है कि ‘खुशबू रचते हैं हाथ’?

उत्तर: ‘खुशबू रचते हैं हाथ’  कवि नहीं है इसलिए कहा है क्योंकि दुनिया को ऐसी खूबसूरत चीजें जैसे इमारतें आदि देने वाले मजदूर किसी नाले के किनारे झुग्गी झोपड़ी में रहने के लिए विवश हैं।

(घ) जहाँ अगरबत्तियाँ बनती हैं, वहाँ का माहौल कैसा होता है?

उत्तर; जहां अगरबत्ती या बनती है वहां का माहौल बहुत ही गंदा होता है वहां से बहुत बदबू आती है।

(ङ) इस कविता को लिखने का मुख्य उद्देश्य क्या है?

उत्तर: इस कविता को लिखने का मुख्य उद्देश्य यह है कि दुनिया को अद्भुत चीजें प्रदान करने वाले मजदूर जो नालों के किनारे तथा छोटी-छोटी झुग्गी झोपड़ियों में रहने के लिए विवश है उनकी तरफ ध्यान केंद्रित करना।

1 thought on “नए इलाके में खुशबू रचते हैं हाथ प्रश्न और उत्तर Class 9”

Leave a Reply

%d bloggers like this: