गिल्लू प्रश्न और उत्तर Chapter 1 Sanchayan Hindi NCERT Solutions for Class 9

NCERT Solutions for Class 9 Hindi Sanchayan Chapter 1 Gillu Questions and Answers

प्रश्न 1. सोनजुही में लगी पीली कली को देख लेखिका के मन में कौन से विचार उमड़ने लगे?

उत्तर: सोनजुही की लता के नीचे गिल्लू को समाधि दी गई थी क्योंकि वह लता गिल्लू को बहुत प्रिय थी। अतः उस सोनजुही में लगी पीली कली को देख गिल्लू के उस फूल के रूप में खिल जाने के विचार लेखिका के मन में उमड़ने लगे थे।

प्रश्न 2. पाठ के आधार पर कौए को एक साथ समादरित और अनादरित प्राणी क्यों कहा गया है?

उत्तर: पाठ के आधार पर कौए को समादरित प्राणी कहने के पीछे का कारण यह है कि हिंदू संस्कृति में ऐसी मान्यता है कि हमारे पूर्वज हमसे कुछ पाने के लिए कौवे के रूप में आते हैं वहीं दूसरी ओर कौवा हमारे रिश्तेदारों के आने की सूचना भी देता है जिसके कारण से आदर मिलता है। लेकिन वही उसकी कर्कश आवाज हर किसी को अच्छी नहीं लगती है इसके कारण वह तिरस्कार व अनादर का भागी बनता है।

प्रश्न 3. गिलहरी के घायल बच्चे का उपचार किस प्रकार किया गया?

उत्तर: गिलहरी के घायल बच्चे का उपचार लेखिका महादेवी वर्मा जी ने बड़े ध्यान पूर्वक किया वह पहले उसे अपने कमरे में लाई उसके बाद उसका खून पोंछकर घावों में पेंसिलिन लगाई। क्योंकि बच्चा खाना खाने में असमर्थ था इसलिए उसे रुई की बत्ती से दूध और पानी पिलाने की कोशिश की गई।

प्रश्न 4. लेखिका का ध्यान आकर्षित करने के लिए गिल्लू क्या करता था?

उत्तर: लेखिका का ध्यान आकर्षित करने के लिए गिल्लू निम्नलिखित कार्य करता था:

  1. वो उसके पैर तक आकर हल्का सा स्पर्श करके जल्दी से पर्दे पर चढ़ जाता और उसी तेजी से उतरता था। ऐसा बहुत तब तक करता रहता जब तक लेखिका उसे पकड़ने के लिए उठना जाती।
  2. भूख लगने पर वह चिक चिक की आवाज करके लेखिका को संदेश देने की कोशिश करता था।

प्रश्न 5. गिल्लू को मुक्त करने की आवश्यकता क्यों समझी गई और उसके लिए लेखिका ने क्या उपाय किया?

उत्तर: गिल्लू को मुक्त करने की आवश्यकता इसलिए समझी गई क्योंकि अब वह जवान हो गया था। उसका पहला वसंत आ चुका था। खिड़की के बाहर कुछ गिलहरियां आकर चिकचिक करने लगी थी और वह उनकी तरफ प्यार से देखता रहता था। यह सब देख लेखिका ने समझ लिया कि अब उसे गिलहरियों के बीच स्वच्छंद विहार करने के लिए छोड़ देना ही उचित है।

प्रश्न 6. गिल्लू किन अर्थों में परिचारिका की भूमिका निभा रहा था?

उत्तर: जब लेखिका एक मोटर दुर्घटना में आहत हो गई थी तो उसे कुछ समय बिस्तर पर ही रहना पड़ा था। लेखिका की ऐसी हालत देख गिल्लू परिचारिका की तरह उसके सिरहाने पर बैठा रहता और अपने नन्हे-नन्हे पंजों से लेखिका के सिर और बालों को सहलाता था।

प्रश्न 7. गिल्लू की किन चेष्ठाओं से यह आभास मिलने लगा था कि अब उसका अंत समय समय है?

उत्तर: गिल्लू ने दिनभर कुछ भी नहीं खाया और रात को वह अपना झूला छोड़कर महादेवी के बिस्तर पर आ गया और उनकी उंगली पकड़ कर हाथ से चिपक गया। इन सब चेष्ठाओं से पता लगता है कि उसका अंत समय समीप आ गया था।

प्रश्न 8. ‘प्रभात की प्रथम किरण के स्पर्श के साथ ही वह किसी और जीवन में जागने के लिए सो गया’ – का आशय स्पष्ट कीजिए।

उत्तर: इसका आशय है कि गिल्लू का अंत समय नजदीक आ गया था। वह प्रथम किरण के स्पर्श के साथ ही अपने पुराने शरीर को त्याग कर नए जीवन की यात्रा पर चल पड़ा था।

प्रश्न 9. सोनजुही की लता के नीचे बनी गिल्लू की समाधि से लेखिका के मन में किस विश्वास का जन्म होता है?

उत्तर: गिल्लू की समाधि सोनजुही की लता के नीचे बनी थी। जिससे लेखिका को यह विश्वास था कि एक ना एक दिन यह गिल्लू इसी सोनजुही की बेल पर पीले फूल के रूप में जन्म ले लेगा।

More Articles

Kallu kumhar ki unakoti

2 thoughts on “गिल्लू प्रश्न और उत्तर Chapter 1 Sanchayan Hindi NCERT Solutions for Class 9”

Leave a Reply

%d bloggers like this: